BIHAR INDIA NEWS SAMASTIPUR

नियम- कानून को ताक पर रखते हुए , दुकानदार अपने मनमर्जी से मुल्य तय कर समान बेच रहे हैं, समान

ब्यूरो रिपोर्ट संतोष राज।

लॉक डाउन के दौरान लोगों को प्रिंट मूल्य पर समान मिले जिसको लेकर समस्तीपुर जिला आपूर्ति पदाधिकारी द्वारा जारी दिनांक 24 मार्च 2020 के ज्ञापंक 265 में सभी दैनिक बाजार भाव तय कर कर दिया गया है। यह व्यवस्था लॉकडाउन के दौरान दुकानदार कालाबाजारी नहीं कर पाए और ग्राहक को उचित मूल्य पर समान उपलब्ध हो ।
लेकिन कुछ मुनाफाखोरी करने वाले सभी नियमों कानून को ताक पर रखते हुए हैं। दुकानदार अपने मनमर्जी से मुल्य तय कर समान बेच रहे हैं। समस्तीपुर जिला के हसनपुर प्रखंड अंतर्गत दुधपुरा बाजार में लॉक डाउन के बीच महंगाई चरम पर है। शाम होते ही दुधपुरा बाजार में भीड़ लग जाती है । आलू प्याज साग सब्जी से लेकर अन्य पदार्थ रेट से अधिक दामो में बेची जा रही है। यह सभी खेल दुधपुरा कैंप के पुलिस बल के समक्ष होते रहता है पुलिस मूकदर्शक बनकर देखते रहते हैं। गलती इनकी भी नहीं है। क्योंकि आमलोगों को भी अपनी जान की परवाह नहीं है।

दुधपुरा निवासी शेख फखरुद्दीन ने बताया कि कोरोना  वायरस  को लेकर लॉक डाउन   चल रहा है ।लेकिन, सहयोग के लिए स्थानीय जनप्रतिनिधि विधायक या सांसद के द्वारा किसी भी प्रकार से क्षेत्रवासी को सहायता नहीं की गई। उन्होंने ये भी कहा कि जिस तरह से दुधपुरा बाजार में भीड़-भाड़ लगा रहता है अगर भीड़ पर कंट्रोल नहीं की गई तो कोरोना वायरस से  फैलते देर नहीं लगेगी। लोग इसका शिकार हो सकता है।

 

वहीं पर भिखो दास का कहना है  दुधपुरा बाजार में प्रशासन की कमी झलक रही है। प्रयाप्त मात्रा में पुलिस बल बढ़ाया जाए नहीं तो दुधपुरा बाजार में भीड़ इकट्ठा होते रहेगी और पब्लिक में परेशानियां बढ़ती जाएगी।

 दुधपुरा  कैंप पर उपस्थित इंचार्ज हवलदार का कहना है  कि यहां पर सिर्फ होमगार्ड जवान है। सीनियर रैंक का पदाधिकारी नहीं हैं। जिस कारण लोगों पर कारवाई नहीं कर पाते हैं।

 

 2,404 total views,  2 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *