BIHAR Hasanpur INDIA NEWS SAMASTIPUR

स्कंदमाता के रूप में महारानी जी के पांचवे स्वरूप की आराधना हुई।

 

आज़ाद इदरीसी की रिपोर्ट।

हसनपुर पटसा गांव के श्री श्री 1008 जनकनंदिनी जानकी महारानी जी स्थान में मनोयोग से वासंतिक नवरात्र का पाठ चल रहा है। पांचवें दिन स्कंदमाता के रूप में महारानी जी के मुख्य पुजारी मधुकांत जी के देख रेख में एवं ज्योति नाथ मिश्र जी के द्वारा पांचवे स्वरूप की आराधना संपन्न हुई। उनके द्वारा चैत्र नवरात्र के पांचवे दिन प्राणिपातप्रसन्ना हि मैथिली जनकात्मजा,अलमेषा परित्रातुं राक्षस्यो महतो भयात्।
सर्वमंगलमंगल्ये शिवे सर्वार्थसाधिके,शरण्ये त्र्यम्बके गौरि नारायणि नमोस्तुते।शरणागतदीनार्तपरित्राणपरायणे
सर्वस्यार्तिहरे देवि नारायणि नमोस्तुते। का जाप किया।
सबने मिलकर वैश्विक महामारी कोरोना से लड़ने की आध्यात्मिक और शारीरिक शक्ति की कामना की। बतातें चलें कि महारानी जी से मांगी गई हर मनोकामना पूर्ण होती है। कोरोना और लोकडाउन की स्थिति में भी गांववासियों की एक उम्मीद देवी से जुड़ गई है। संपूर्ण बंदी के दिन से मंदिर में श्रद्धालुओं के लिए प्रसाद चढ़ाना भी बंद है साथ ही लोगों से आग्रह किया गया है की आरती और दर्शन के लिए बारी बारी से दूरी बनाकर आए। कोरोना वायरस से बचने के लिए सभी को जागरूक किया जा रहा है। रामनवमी के दिन होने वाले ध्वजा पूजा भी बहुत ही सादे तरीके से आयोजित की जाएगी ताकि मंदिर परिसर में भीड़-भाड़ ना लगे।

 2,670 total views,  3 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *