BIHAR Education INDIA NEWS SAMASTIPUR Shahpurptori

स्वीकृत चौदह विषयों में से अबतक तेरह विषयों में स्टडी मेटेरियल्स कॉलेज के बेवसाइट्स पर अपलोड कर दिया गया है।

अमित कुमार की रिपोर्ट।

शाहपुर पटोरी अनुमण्डल क्षेत्र के जी. एम. आर. डी. कॉलेज, मोहनपुर के प्रधानाचार्य डॉ घनश्याम राय ने बताया कि महाविद्यालय के बेवसाइट्स पर सात सौ से ज्यादा नोट्स, लेक्चर, वीडियो, ऑडियो अपलोड किया गया है। विदित हो चौदह विषय स्वीकृत है जिसमें से मात्र ग्यारह विषयों में नियमित और अतिथि शिक्षक कार्यरत हैं। तीन विषय क्रमशः भौतिकी, बॉटनी और मनोविज्ञान विषय में एक भी शिक्षक नहीं है। डॉ राय ने बताया कि स्वीकृत चौदह विषयों में से अबतक तेरह विषयों में स्टडी मेटेरियल्स कॉलेज के बेवसाइट्स www.gmrdcollege.org पर अपलोड कर दिया गया है। भौतिकी विषय में शिक्षक नहीं रहने के बावजूद ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय,दरभंगा के डिग्री 1,2 और 3 के सेलेबस के अनुसार सभी पत्रों के नोट्स, लेक्चरर, वीडियो, ऑडियो अपलोड है। विश्वविद्यालय के अन्य महाविद्यालयों के छात्र,छात्राएं भी जी एम आर डी कॉलेज के बेवसाइट्स से अध्ययन सामग्री डॉनलोड कर सकते हैं। इसीतरह बॉटनी विषय में भी शिक्षक नहीं है। अध्ययन सामग्री उपलब्ध है। मनोविज्ञान विषय में भी शिक्षक नहीं रहने के बावजूद एक दो दिन में स्टडी मेटेरियल्स उपलब्ध हो जाएगा। कुलपति ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान कहा था कि छात्र,छात्राएं अन्य कॉलेज के बेवसाइट्स पर उपलब्ध अध्ययन सामग्री प्राप्त कर सकते हैं। लंगट सिंह महाविद्यालय, मुजफ्फरपुर के स्नातकोत्तर भौतिक विभाग के उपाचार्य सह विभागाध्यक्ष डॉ राजेन्द्र प्रसाद के द्वारा जी एम आर डी कॉलेज, मोहनपुर के डिग्री के छात्र,छात्राओं के हित में मेरे द्वारा विशेष आग्रह पर अपना पांच सौ से ज्यादा पृष्ठों की अध्ययन सामग्री जी एम आर डी कॉलेज के बेवसाइट्स पर साभार उपलब्ध कराया है। ए एन डी कॉलेज, शाहपुर पटोरी में जी एम आर डी कॉलेज,मोहनपुर के बॉटनी के उपाचार्य प्रोफेसर आफताब आलम विगत चार वर्षों से पदस्थापन पर कार्यरत हैं। विश्वविद्यालय को कई बार पत्राचार द्वारा प्रोफेसर आफताब आलम को जी एम आर डी कॉलेज में पुर्नवापसी के लिए पत्राचार किया गया है, लेकिन अबतक उनको पुर्नवापसी नहीं किया गया है। जबकि यहां बॉटनी विषय में एक भी शिक्षक नहीं है। महाविद्यालय के सभी नियमित एवं अतिथि शिक्षकों का व्हाट्सएप नंबर और ईमेल बेवसाइट्स पर उपलब्ध है। कोई भी छात्र,छात्राएं ऑनलाइन अपनी समस्याओं का समाधान संबंधित शिक्षकों से कर सकते हैं।

 2,445 total views,  6 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *