Araria BIHAR INDIA lockdown NEWS Police

अररिया लॉकडाउन के शत प्रतिशत अनुपालन को लेकर जिला पदाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक द्वारा संयुक्त रूप से की गई समीक्षा बैठक ।

ज्ञान मिश्रा की रिपोर्ट।

अररिया कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर लागू लॉकडाउन के शत प्रतिशत अनुपालन को लेकर जिला पदाधिकारी प्रशांत कुमार सीएच एवं पुलिस अधीक्षक धुरत सायली द्वारा संयुक्त रूप से जिलाधिकारी के कार्यालय वेश्म में जिला स्तरीय सभी वरीय पदाधिकारी के साथ लागू लॉक डाउन के सार्थक गतिविधियों को लेकर गहन समीक्षा की गई। समीक्षा के दौरान जिला पदाधिकारी द्वारा लॉकडाउन के शत प्रतिशत अनुपालन को लेकर कई आवश्यक दिशा निर्देश दिया गया। मौके पर अपर समाहर्ता, उप विकास आयुक्त, सिविल सर्जन, प्रभारी पदाधिकारी आपदा, जिला जन सम्पर्क पदाधिकारी एवं संबंधित पदाधिकारिगण उपस्थित थे।जिला प्रशासन द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति मे बताया गया कि कोरोना महमारी को ध्यान में रखते हुए स्वास्थ्य विभाग, अररिया के द्वारा 24×7 चिकित्सीय सुविधा दूरभाष के माध्यम से उपलब्ध कराने हुए दूरभाष संख्या 06453- 224566, 224567, 224568 तथा 224560 चालू किया गया है। उक्त दूरभाष के माध्यम से पीड़ित रोगी को चिकित्सीय सलाह प्रदान की जाएगी।

किसी भी तरह के कार्यस्थल पर कर्मियों एवं अन्य गतिविधियों के लिए मास्क पहना अनिर्वाय किया गया है। साथ ही साथ सोशल डिस्टेंसिग का अनुपालन करना एवं कार्यस्थल पर तम्बाकू का सेवन नहीं करने और यत्र-तत्र थुकने पर सख्त प्रतिबंध लगाया गया है। कार्य स्थल पर क्या करें, क्या न करें का सूचना पट भी अंकित कराने का निर्देश संबंधित पदाधिकारी को दिया गया है। फल बेचने वाले, सब्जी बेचने वाले, किराना दुकान, दूध डेयरी, दवा दुकान के कर्मी तथा सामग्री क्रय करने वाले आम लोगों को मास्क या रूमाल का उपयोग करना अनिवार्य है। ऐसा नहीं करने पर संबंधित व्यक्ति दण्ड के भागी होंगे।
कोवीड-19 के संक्रमण के रोकथाम एवं प्रभावी नियंत्रण हेतु राज्य के बाहर से आ रहे लोगों, एवं मजदूरों को Quarantine में रखने का निदेश दिया गया है। इसको लेकर पूर्व में गांवों के विद्यालय में Quarantine Camp बनाया गया है। उक्त परिपे्रक्ष्य में जिला पदाधिकरी श्री सी0एच0 ने बताया कि सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी/ अंचाधिकारी/ बाल विकास परियोजना पदाधिकारी/ प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी/ थानाध्यक्ष से समन्वय बना कर बाहर से आ रहे लोगोे को Quarantine में रखने का निदेश दिया है। सिविल सर्जन, अररिया को निर्देशित किया गया है कि वे नियमित रूप से Quarantine Camp में रखे गये लोगों का जाँच प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी से करायेंगे। यदि कोरोना का लक्षण पाया जाता है तो ससमय नियमानुसार कार्यवाही सुनिश्चित करेंगे।
समाहरणालय स्थित आत्मन कक्ष में स्थापित जिला नियंत्रण कक्ष में दिनांक 24 अप्रैल 2020 तक कुल 895 शिकायतें प्राप्त हुई, जिसमें से आजतक कुल 865 शिकायतों का निष्पादन किया जा चुका है। वहीं जिला स्वस्थ्य नियंत्रण कक्ष सह चिकित्सीय परामर्श हेल्पलाईन 104 के माध्यम से अबतक 622 लोगों को नियंत्रण कक्ष में प्रतिनियुक्त चिकित्सकों द्वारा चिकित्सीय परामर्श दिया गया है।
खाद्य सामग्री की कालाबाजी की शिकायतों पर अबतक कुल 4579 दुकानों/प्रतिष्ठाानों में छापेमारी की गई है। जिसमें 292 दुकानों/प्रतिष्ठानों में अनियमितता पायी गई है। जिनके विरूद्ध विधि सम्मत कार्रवाई की गई है। लाकडाउन खत्म होने तक जिले में प्रयाप्त मात्रा में खाद्य सामग्री का स्टाक उपलब्ध है। पीएमजीकेवाई के तहत अप्रैल माह का अनाज वितरण किया जा रहा है।
कोवीड-19 के रोकथाम हेतु पंचायतों में बनायें गये Quarantine Camp (आपदा राहत केन्द्र) में आज की तिथि तक 518 व्यक्तियों को रखा गया है। जिनका स्वास्थ्य विभाग की टीम नियमित रूप से मेडिकल जाँच कर रही है। साथ ही साथ उन्हें सभी तरह की आवश्यक सुविधाएं मुहैया करायी जा रही हैं।
दिनांक 24 अप्रैल 2020 को 01 व्यक्ति को Isolation में रखा गया है। जिले में अबतक कोवीड-19 का एक भी कन्फर्म मरीज नहीं पाया गया है। अबतक 147 व्यक्तियों का सेम्पल जाँच कराया गया है। जिसमें 146 का रिपोर्ट निगेटिव पाया गया है और 01 व्यक्ति का रिपोर्ट प्रत्याशा में है।
लाॅकडाउन की अविध में अबतक 36428 प्रवासी मजूदरों के आवेदन को स्वीकृति प्रदान की गई है।
कोरोना संक्रमण को लेकर उत्पन्न वर्तमान स्थिति पर काबु पाने के लिए सभी अंचाधिकारी को सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों एवं हाट, बाजारों, चैक-चैराहों तथा बैंक , जन वितरण प्रणाली की दुकान एवं भीड़-भाड़ वाले स्थलों पर घ्वनि विस्तार यंत्र (माईकिंग) द्वारा गहन प्रचार प्रसार कराने का निर्देश दिया गया है।

 

 2,550 total views,  2 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *