किसान कृषि विभाग छौड़ाही फसल बारिश बिहार बेगूसराय भारत मौसम

जोरदार बारिश से फसलों की तबाही। गेहूं फसल को सर्वाधिक नुकसान, दाने में है रहा अंकुरण।

बलवंत चौधरी

(बेगूसराय) : बैशाख महिने में लगातार हो रही बारिश से खेतों में पककर तैयार फसलों की तबाही का मंजर साफ देखा जा सकता है। रविवार को भी मूसलाधार बारिश हुई। पहले से भींगे गेहूं की बाली से अंकुरण हो रहा है। रविवार की बारिश ने जिले के गेहूं की फसल को पूरी तरह से बर्बाद कर रख दिया है।

फसलों की बर्बादी : वर्षा मापक केंद्र छौड़ाही से प्राप्त जानकारी के अनुसार 62  एम एम बारिश रिकॉर्ड की गई । किसान मालपुर के चंदन चौधरी,रब्बी सिंह,  नवल किशोर सिंह,  राजकिशोर सिंह,  आलोक कुमार,  रंजन सिंह, कन्हैया कुमार समेत कई किसान ने फसल दिखा बताया कि खेत में कटे गेहूं फसल में अंकुरण आ गया और गेहूं सड़ने  भी लगा है। एकंबा में 250 एकड़, परोड़ा में 200 एकड़, नारायणपीपड़ में 200 एकड़ समेत 1000 एकड़ से अधिक खेत में गेहूं फसल खराब होने का अनुमान है। 400 हेक्टेयर सरसों पहले ही बर्बाद हो गई थी। किसानों को अब खाने के अनाज की भी समस्या हो गई है क्योंकि अधिकतर किसान खाद्य सुरक्षा कानून के दायरे से बाहर हैं।

परोड़ा के प्रगतिशील किसान मदन प्रसाद ने बताया कि जब प्रखंड कृषि पदाधिकारी को इस बात की जानकारी दी तो प्रखंड कृषि पदाधिकारी रामकिशोर शर्मा ने कहा कि गेहूं का फसल पानी से भीगने पर क्षति नहीं होता है। उसका वजन बढ़ जाता है और गेहूं का गर्मी निकल जाता है। इसलिए आपको क्षति नहीं मिलेगा। किसानों का कहना था कि कृषि समन्वयक शालिग्राम सिंह ने तो कुछ जवाब ही नहीं दिया और मोबाइल स्विच ऑफ कर लिया। किसानों ने जिला कृषि पदाधिकारी से फसल क्षति का मुआवजा दिलवाने की मांग की है।
मौसम एलर्ट : कृषि विज्ञान केंद्र बेगूसराय के कार्यक्रम समन्वयक डॉक्टर सुनीता कुशवाहा ने बताया कि आगामी 29 अप्रैल तक घने बादल छाए रहेंगे। मुख्यतः पुर्वी हवा चलेंगी। उस दौरान गरज के साथ बारिश होगी। वहीं 28 एवं 29 अप्रैल को मूसलाधार बारिश होने का अनुमान है।

 

 2,948 total views,  2 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *