न्यूज बिहार भारत शिक्षक हड़ताल

बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के आवाहन पर 74 वें दिन हड़ताल जारी है।

बिहार पंचायत नगर प्रारंभिक शिक्षक संघ मूल जिला कमिटि की बैठक जिलाध्यक्ष कुमार रजनीश व जिला महासचिव रामनाथ कुमार के अगुवाई में वॉइस कॉन्फ्रेंस के जरिये  की गई।
जिसमें बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के आह्‍वान पर 17 फरवरी से  अनिश्चितकालीन हड़ताल पर बैठे  सभी प्रखंड प्रतिनिधियों से विचार-विमर्श किया गया वैश्विक महामारी कोरोना वायरस और लॉक डाउन से ऊपजी स्तिथि के बीच फँसे हड़ताल की गम्भीरता पूर्वक समीक्षा की गई।

जिलाध्यक्ष कुमार रजनीश ने कहा कि सरकार के गलत मंसूबों को कामयाब नहीं होने देंगे सरकार के इशारे पर पदाधिकारी सहित कुछ कार्यालय कर्मियों द्वारा गलत-सलत रिपोर्ट किया जा रहा है।
शिक्षकों के बीच ऊहापोह की स्तिथि उत्पन्न करने की नीति के तहत जानबूझकर आंकड़ों में हेराफेरी कर ज्यादा दिखाया जाता है ताकि शिक्षकों का मनोबल टूट जाय और वो हड़ताल से वापस हो जाएं परन्तु प्रखंडों से प्राप्त जानकारी के अनुसार ये सिद्ध होती है कि अभी भी 90 प्रतिशत से ऊपर शिक्षक हड़ताल में अनवरत डटे हुए हुए हैं,साथ ही अपनी 7 सूत्री मांगों के समर्थन में सरकार से सफल वार्ता होने तक हड़ताल जारी रहेगा।

आज वॉइस कॉन्फ्रेंस  में जिला संरक्षक नंद किशोर यादव,जिला कोषाध्यक्ष मो0 अब्बास,उपाध्यक्ष वृजराज सिंह,महेश प्रसाद यादव,रामबालक राय, संयुक्त सचिव संजय कुमार झा,रेणु कुमारी ज्योति,प्रखंड प्रतिनिधि शशिबाला कुमारी, मदन पासवान,विक्रम चौधरी,उमेश चौधरी,अवधेश कुमार,विकेश कुमार सिंह,पारसनाथ महाराज,बिनोद कुमार राय,चंद्रभूषण शर्मा,अवनीश कुमार,संतोष कुमार राय,विश्वनाथ यादव,गंगा प्रसाद यादव,नवीन कुमार ,राकेश कुमार रंजन,राजेश्वर पासवान,शम्भू कुमार सहनी, संजीत कुमार सहनी, संजय कुमार जितवारपुरी,पवन कुमार,लालबाबू कुमार,एकनाथ पोद्‍दार,मनोज कुमार,नीतिश कुमार,संजीत कुमार अद्‍वितीय आदि ने संबोधित करते हुए प्रस्तावित 5 मई राजभवन मार्च को सफल बनाने का आह्वान किया।साथ ही सर्वसम्मति से निर्णय लिया कि अगर परिस्तिथि विपरीत रही और राज्य समन्वय समिति आंदोलन हित में कोई आवश्यक निर्णय नहीं लेती तो जिला कमिटि स्वतः 6 मई को शिक्षक हित में अहम व निर्णायक निर्णय लेने को बाध्य होगी अंत में बिथान प्रखंड के दिवंगत शिक्षक रामानंद यादव के मृत आत्मा के शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की गई।सभी शिक्षकों ने हठकमी॔ सरकार प्रति काफी निंदा की ।

 2,998 total views,  2 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *