न्यूज पुलिस बिहार भारत मारपीट लॉक डाउन समस्तीपुर हमला हसनपुर

दो पक्षों के बीच जमकर हुई मारपीट दोनों पक्ष हुए घायल दोनों पक्षों ने एक-दूसरे के विरुद्ध हसनपुर थाना में दर्ज कराया मामला।

 

संतोष राज  की रिपोर्ट।
समस्तीपुर जिला के हसनपुर थाना क्षेत्र के देवधा पंचायत के सकरडीहार गांव वार्ड नंबर 15 से  अजीबोगरीब मारपीट का मामला सामने आया है।

पीकप वेन से युवकों धक्का मारने का प्रयास किया तो युवक एवं युवक के परिजनों ने पिकअप वैन  ड्राइवर के पिताजी को कहने के लिए गया इसी बात को लेकर बाता वती होने लगी और मारपीट  दोनों पक्ष करने लगे ।बात इतनी आगे बढ़ गई कि आज 4 लोग हॉस्पिटल में एडमिट हो गए।

 

सकरडीहार गांव निवासी सतन यादव के पुत्र फूलो यादव ने बताया कि 29 अप्रैल को किसी काम से  सड़क पर निकला तो देखा विकेश कुमार यादव पिकअप वैन को चलाते हुए आ रहा था और फूलो यादव को धक्का मारने की प्रयास की गई फूलो यादव ने बताया कि किसी तरीके से जान बचाकर वहां से आए और अपने परिजनों की इसकी जानकारी दी साथ ही परिजनों के साथ विकेश के पिता नागेश्वर यादव को कहने के लिए गए इसी बात को लेकर नागेश्वर यादव ,विकेश कुमार यादव, सहदेव यादव, श्रीराम यादव, कैलाश यादव ,रंजीत यादव ,जय जय राम यादव ,संजय यादव ,पवन यादव, श्रीराम यादव, अमीन यादव, नरेश यादव, मोहन यादव, पवन यादव,  संतोष यादव , सभी एक राय कर लाठी डंडे एवं लोहे की रॉड से वार कर दिया ।

फूलो यादव ने यह भी बताया कि मारपीट एवं गाली गलौज  सुन उनके भाई लल्लू और उनकी पत्नी पिंकी देवी बचाने के लिए आए उनके साथ भी बुरी तरह से मारपीट करने लगे  मारपीट के दौरान सतन यादव पैर टूट गया ।
पिंकी देवी की दांत टूट गई बाकी 2 लोग बुरी तरह से जख्मी हो गए श्री यादव ने यह भी कहा कि ईट पत्थर भी दोनों पक्षों के लोगों ने फेंके इसमें दर्जनों लोग घायल हुए है  ।ग्रामीणों की भीड़ जुट गई ग्रामीणों को भीड़ देखकर सभी आरोपी वहां से फरार हो गया ग्रामीणों के सहयोग से प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र हसनपुर में दोनों पक्षों का इलाज कराया गया ।वहां के डॉक्टर   बेहतर इलाज के लिए समस्तीपुर सदर अस्पताल रेफर कर दिया गया समस्तीपुर सदर अस्पताल रेफर कर दिया। समस्तीपुर के डॉक्टर ने बेहतर इलाज के लिए वहां से भी रेफर कर दिया तो बेगूसराय में  नीजी क्लीनिक में इलाज चल रही है ।
जहां पर सतन यादव को पैर  बुरी तरह से पैर टूटने के कारण स्टील लगाया गया है। बरहाल अभी इलाज चल रही है ।उन्होंने बताया कि हसनपुर थाना में आवेदन दी गई हैं ।
थाना अध्यक्ष चंद्रकांत गौरी ने दोनों पक्षो के लिखित आवेदन के आधार पर प्राथमिकी दर्ज की है ।एक पक्ष ने जहां 5 लोगों को अभियुक्त बनाया है वहीं दूसरी पक्ष ने 15 लोगों को नामजद किया है। दोनों पक्ष अपने-अपने पक्ष में अपनी कथा सुना रहे हैं। वही सजगता पूर्वक हसनपुर पुलिस मामले की छानबीन कर रहे हैं ।दोनों पक्ष मारपीट मामले में अपने को निर्दोष बता रहे हैं लेकिन ग्रामीणों ने जमकर मारपीट होने की बात कही है।

 

 2,567 total views,  3 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *