न्यूज बिहार भारत लॉक डाउन सरकार हड़ताल

हड़ताल हुई समाप्त वेतन की आस में शिक्षक |

@ हताश हैं पर निराश नहीं , टीईटी शिक्षक |
बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के आह्वान पर समस्तीपुर जिले के तमाम नियोजित शिक्षक  17 फरवरी से लगातार अपनी  मांगों को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर थे।
 अपर मुख्य सचिव शिक्षा विभाग बिहार सरकार के आश्वासनोंप्रांत समन्वय समिति ने अपना हड़ताल समाप्ति की घोषणा की शिक्षकों ने विभागीय निर्देशानुसार विभिन्न प्रखंड संसाधन केंद्रों पर  उपस्थित होकर एवं जिनका घर दूर है लॉक डाउन में फंसे होने के कारण व्हाट्सएप के माध्यम से अपना योगदान दिया है ।
 शिक्षकों के हड़ताल में रहने के कारण वेतन आभाव में शिक्षकों का हाल बेहाल है  तथा भूखमरी के कगार पर चले गए हैं।
 टीइटी-एसटीइटी उत्तीर्ण योजित शिक्षक संघ ,गोप गुट के जिलाध्यक्ष अशोक कुमार साहू ने ईमेल के माध्यम से जिला कार्यक्रम पदाधिकारी को  पत्र दिया है उन्होंने बताया कि हड़ताल लगातार 78 दिन तक चला जिसमें शिक्षकों को कई विषम परिस्थितियों से गुजरना पड़ा अभी कोरोना जैसी महामारी से बिहार सरकार एवं केंद्र सरकार गुजर रहा है ,ऐसी परिस्थितियों में सरकार ने हमारी मांगों पर वार्ता नहीं किया लेकिन हमारा सेवा-शर्त राज्य कर्मी का दर्जा जैसे मांगो जो वित्तीय मामला से अलग था की घोषणा करनी चाहिए थी ,खैर हमारे शिक्षक हताश जरूर हैं पर निराश नहीं आने वाले दिनों में जब कोरोना मुक्त बिहार होगी ,सहमति अनुसार सरकार हमारी मांगों को नहीं मानेगी तो टीइटी शिक्षक लड़ाई को कमर कसेंगें संगठन के महासचिव जय प्रकाश भगत ,सचिव रंजीत कुमार रमन, विकास कुमार, सुजीत ठाकुर, कोषाध्यक्ष पवन शर्मा, राज्य कार्यकारिणी सदस्य अविनाश कुमार ,उपाध्यक्ष विरदेलाल यादव, धर्मवीर कुमार ,राजकुमारी, मीडिया प्रभारी मोहम्मद इमरान ने कहा विभाग जल्द वेतन भुगतान करे|

 2,641 total views,  3 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *