खगड़िया दान न्यूज पंचायत बिहार बेलदौर भारत मुखिया वस्त्रों वितरण सूर्य ग्रहण

सूर्य ग्रहण समाप्त होने के बाद मुखिया ने किया वस्त्रों की वितरण।

राजकमल कुमार / बेलदौर / रिपोर्ट/ खगड़िया
बेलदौर प्रखंड में सूर्यग्रहण समाप्त होने के बाद मुखिया प्रतिनिधि संजय शर्मा ने  निःसहाय परिवारों के बीच दान किए। मालूम हो कि मुंगेर प्रमंडल अंतर्गत खगड़िया जिला के बेलदौर प्रखंड में 11:45 से 3:04 मिनट पर समाप्त हुआ। वही बेलदौर मुखिया प्रतिनिधि संजय शर्मा एवं मुखिया कुमारी बेबी रानी ने   निःसहाय  परिवारों के बीच अंग वस्त्र  दान दिए।
 राजेश मल्लिक, भोला मलिक, धोलटू मल्लिक, सूरज मल्लिक, भोला मल्लिक, रंजीत मल्लिक, मीना देवी, रिंकी देवी, सीता देवी, पिंकी देवी,  चंदेश्वरी विलक्षण सादा, दूजा सदा के बीच  सूर्य ग्रहण के समाप्ति के बाद दान किए। मालूम हो कि मुखिया प्रतिनिधि संजय शर्मा ने बताया कि हिंदू सनातन धर्म में आस्था रखने वाले लोग ग्रहण सूतक काल से पहले ही अपने देवी-देवताओं के कपाट बंद कर देते हैं। इसके बाद ग्रहण होने पर लोग मंदिर और पूजा घरों को खोलते हैं। मूर्तियों को गंगाजल से  छिडक कर उन्हें पवित्र करते हैं। इस विधिवत पूजा पाठ पहले की तरह शुरू करते हैं। उक्त मामले में पंडित सुबोध झा ने बताया कि ज्योतिषियों के अनुसार किसी भी पूर्ण ग्रहण शुरू होने से 12 घंटे पहले सुखपाल कहा जाता है। इस दौरान मंदिरों में पूजा-पाठ या कोई शुभ कार्य नहीं किया जाता एवं सूर्य ग्रहण समाप्त होने के बाद ही मंदिर के कपाट खुलते हैं, और लोग पूजा अनुष्ठान शुरू करते हैं। उन्होंने बताया कि यह सूर्य ग्रहण करीब 6 घंटा लगा, लंदन की वजह से पूरे विश्व में इसकी चर्चा हो रही है। वही गर्भवती महिलाएं भी इस ग्रहण में विशेष सावधानी रखती है।

उन्होंने बताया कि भारतीय सनातन धर्म के अनुसार सूर्य ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाओं को विशेष सावधानी बरतनी एवं घर के बुजुर्गों को पंडित की सलाह के अनुसार अपने घर से बाहर नहीं निकलना चाहिए एवं किसी प्रकार की चिंता नहीं रखनी चाहिए। ग्रहण के दिन आम दिनों की तरह सम्मान दिन की तरह अपने घरों में रहे खास बात यह है कि सूर्य ग्रहण के दौरान बच्चों से लेकर बड़ों तक कोई भी इस काम को खुली आंखों से ना देखें । सूर्य ग्रहण के  दौरान खुली आंखों से सूर्य ग्रहण को ना देखें कोई भी, एक्सरे एवं टेलीस्कोप एवं काले चश्मे एवं बर्तन में पानी भरकर देखें। वहीं मुखिया प्रतिनिधि  संजय शर्मा ने   मलिक समुदाय लोगों को काले चश्मे से सूर्य ग्रहण का दर्शन कराया एवं बर्तन में पानी उन्हें देखने को कहा, क्योंकि खुली आंखों से देखने से आंखों की रोशनी खराब हो जाती है। सूर्य ग्रहण के दौरान बेलदौर प्रखंड में आसमानों में सूर्य बादलों के बीच लुका छुपी का खेल चलता रहा। सूर्य ग्रहण समाप्त होने के बाद  मुखिया प्रतिनिधि संजय शर्मा ने सभी लोगों को गंगा  जल छिट कर पवित्र किया।

 2,766 total views,  2 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *