छौड़ाही न्यूज पदाधिकारी प्रशासन बिहार बेगूसराय भारत भू माफिया मकान स्वास्थ्य केंद्र

भूमाफियाओं ने अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र छौड़ाही को ध्वस्त कर बना दी बिल्डिंग। स्वास्थ्य केंद्र निर्माण के नाम पर दस लाख लेकर फरार है अभिकर्ता। स्वास्थ्य विभाग कह रहा फाइल देखकर देंगे जानकारी।

बलवंत चौधरी
( सबकी खबर आठो पहर न्यूज रूम)
  (बेगूसराय) : प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र छौड़ाही के जिम्मेदार अधिकारियों एवं अंचल प्रशासन के गठजोड़ से भू-माफिया इतने ताकतवर हो गए हैं कि अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र तक को ध्वस्त कर उसमें बिल्डिंग बनाने का दुस्साहस कर दिया। मुखिया और सैकड़ों प्रखंडवासी द्वारा पीएचसी प्रभारी और अंचलाधिकारी से लिखित शिकायत के बाबजूद मौन रहकर अतिक्रमणकारियों को मदद करने से लोगों में काफी आक्रोश व्याप्य है।

इस संबंध में सावंत पंचायत के मुखिया रिंकू कुमारी, ओम प्रकाश चौरसिया, राजू कुमार, जीवन यादव, मंजेश कुमार, प्रमोद चौरसिया, लक्ष्मी यादव, देवनारायण चौरसिया समेत सैकड़ों लोगों ने जिलाधिकारी बेगूसराय सिविल सर्जन बेगूसराय आदि अधिकारी को आवेदन प्रेषित कर कहा है कि अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र छौड़ाही ठीक बीच बाजार में स्थित है।

उक्त जमीन का खाता नंबर 297 245 एवं खसरा नंबर 382 183 तीन कट्ठा एक धूर राज्यपाल के नाम से दान में प्राप्त हुआ है। कुछ साल पहले तात्कालिक ईख राज्य मंत्री अशोक महतो द्वारा इस स्वास्थ्य केंद्र को भवन आवंटित किया गया था। भवन आधा बनकर तैयार हुआ और अभिकर्ता अग्रिम राशि लेकर फरार हो गए ।उसके बाद भू माफियाओं की नजर अधूरे भवन पर पड़ी और उन लोग पीएचसी के जिम्मेदार अधिकारियों एवं अंचल प्रशासन से मिलीभगत कर अधूरे निर्माण को ध्वस्त कर जमीन पर कब्जा कर पक्का तीन मंजिला बिल्डिंग खड़ा कर दिया है। अभी भी निर्माण कार्य जारी है। ग्रामीण जब इसका विरोध करते हैं तो भू माफिया बम गोली चलाने की धमकी देते हैं। ग्रामीण का कहना है कि अंचलाधिकारी एवं पीएचसी प्रभारी को दर्जनों पत्र लिखें वह लोग कुछ नहीं कर रहे हैं। इससे काफी तनाव बन गया है जो कभी भी हिंसक हो सकता है। ग्रामीणों ने दिए आवेदन में कहा है कि स्वास्थ्य विभाग की जमीन है लेकिन स्वास्थ्य विभाग हीं इस पर चुप बैठा हुआ है। मजबूरी में पंचायत भवन में अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र संचालित हो रहा है। जिससे पंचायत के कार्य में भी काफी दिक्कत हो रही है। वहीं करोड़ो की कीमती जमीन भूमाफिया हड़पने का प्रयास कर रहे हैं। ग्रामीणों ने जिलाधिकारी एवं सिविल सर्जन बेगूसराय से अपने स्तर से जांच करा जमीन को अतिक्रमण मुक्त कर उस पर स्वास्थ्य केंद्र बनाने की मांग की है।
 स्वास्थ्य विभाग को स्वास्थ्य केंद्र की खबर नहीं : छौड़ाही में पहले स्वास्थ्य उप केंद्र था।
प्रखंड मुख्यालय होने एवं यहां इलाज के लिए काफी संख्या में लोगों को आते देख 18 वर्ष पहले सरकार ने इसे अपग्रेड कर अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बना दिया। लेकिन पीएचसी छौड़ाही के अधिकारी को अभी तक यह स्वास्थ्य उपकेंद्र ही लग रहा है। पीएचसी प्रभारी बताते हैं कि ग्रामीणों का आवेदन मिला है। फाइल निकाल कर देखेंगे तब ही कुछ जानकारी दे सकते हैं । उन्होंने बताया कि छौड़ाही स्वास्थ्य केंद्र को अपग्रेड कर एपीएचसी बनाने की जानकारी उन्हें नहीं है।

 2,744 total views,  2 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *