खगड़िया जन वितरण प्रणाली जांच धांधली न्यूज पदाधिकारी बिहार बेलदौर भारत लॉक डाउन

लॉक डाउन में जनवितरण प्रणाली के विक्रेता का मनमानी चरम सीमा पर।

राजकमल कुमार / रिपोर्टर / बेलदौर।

बिहार में लगातार लॉक डाउन के चलते किसानों एवं मजदूरों के जीवन यापन पर बड़ा बोझ पड़ा है। वही डीलरों की मनमानी रुकने का नाम नहीं ले रहा है। बेलदौर प्रखंड क्षेत्र के दिघौन पंचायत के डीलर संझिया देवी के द्वारा लाभार्थियों से 4 रूपए किलो चावल 3 रूपए किलो गेहूं लिया जाता है। साथ ही प्रत्येक कार्ड धारी से 2 किलो अनाज काटा जाता है। वही बिहार सरकार के द्वारा जो दाल दिया जा रहा है, उसमें 900 ग्राम दाल लाभुकों को दिया जाता है, जबकि हर एक लाभार्थियों को 1 किलो डाल देना है। वही ग्रामीणों ने बताया कि डीलरों के द्वारा कुछ व्यक्ति को दाल वितरण किया। लेकिन उसके बाद दाल वितरण करना बंद कर दिया। वही इससे आक्रोश उक्त पंचायत के ग्रामिण मोहम्मद फिरोज, मोहम्मद इल्यास, स्वागतम चौधरी, कौशल्या देवी,  मसोमात लुखरी देवी, शबनम देवी, अनीता देवी, पिंकी देवी, जमीला खातून आदि लोगों ने डीलरों के विरुद्ध  रोड पर उतर कर नारेबाजी की। उक्त गांव ग्रामीण बता रहे हैं कि जब बिहार सरकार के द्वारा तीन रुपया किलो चावल दो किलो गेहूं दिया जाता है, तो लाभुकों से 4 और 3 क्यों लिया जाता है। वही डीलर ने बताया कि हम एमओ एवं एसडीओ साथ ही डीलर संघ के अध्यक्ष को कमीशन देते हैं।

कोई पदाधिकारी कुछ नहीं करने वाले हैं। जब सुशासन बाबू की राज में डीलरों की मनमानी चरम सीमा पर है। पदाधिकारियों में भ्रष्टाचार दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है। आदि उक्त डीलर पर कानूनी कार्रवाई नहीं होगी तो हम सड़क पर आकर रोड चक्का जाम कर देंगे। इस संबंध में डीलर संझिया देवी ने बताई की पीडीएस दुकान पर जो अनाज आता है, लेबर को अपने से पैसा देते हैं, साथ साथ उपर भी कमिशन देते हैं। इसी बात को लेकर लेबर के नाम पर पैसा ले रहे हैं।

 2,297 total views,  2 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *