खगड़िया जमीनी विवाद न्यूज बिहार भारत

दलालो के कारण जमीनी विवाद बना नासूर, कई किसानों के जमाबंदी में हेरफेर तो किसी के खाता में।

राजकमल कुमार की रिपोर्ट।

बेलदौर थाना क्षेत्र में जमीनी विवाद नासूर बना हुआ है। जमीनी विवाद को लेकर प्रखंड क्षेत्र में हत्या एवं मारपीट की घटना सामने आती रहती है। मालूम हो कि प्रखंड क्षेत्र में जमीनी विवाद प्रखंड कार्यालय एवं राजस्व कर्मचारी के दलाल ही मुख्य कारण बना हुआ है, कहीं किसी किसान के खाते में जमाबंदी नहीं चढ़ाते हैं और किसी के खाते में फैर बदल कर विवाद को खड़ा किया जाता है। जिस कारण प्रखंड क्षेत्र में जमीनी विवाद दबे कुचले लोगों के लिए नासूर बना हुआ है। इसी कड़ी में बेलदौर थाना क्षेत्र के चौढ़ली गांव निवासी बेलदौर थाना को लिखित आवेदन देकर न्याय की गुहार लगाई है।

आवेदित आवेदन में वर्णित है कि चौढ़ली मौजा के  किसान स्वर्गीय विष्णु देव रजक की पत्नी मंजुला देवी हल्का वासा गांव निवासी आवेदन देकर बताया है कि मेरे पति स्वर्गीय विष्णु देव रजक ने शंभू शरण सिंह और राधा कृष्ण सिंह से वर्ष 1993 में रजिस्ट्री द्वारा जमीन खाता संख्या 267, 268, 326 खेसरा 890, 1087,871 रकवा 1-5-0 खरीद किया गया था जिसका जमाबंदी तीन सौ । वही उक्त जमाबंदी जमीन की पड़ असामाजिक तत्व द्वारा रंगदारी मांगने जमीन पर बाय जबरदस्ती चढ़कर धमकी दिया। जिससे मैं पूरे परिवार डरे सहमे है। आवेदन में बताया जाता है कि उक्त जमीन हमारे कब्जे में शांतिपूर्ण ढंग से जोत आवाज कर खा रही थी जमीन का दाखिल खारिज हुई मेरे पति के नाम से आज तक बिहार सरकार की रजिस्ट्री में दाखिल है जिसका जमाबंदी 300 है।

यह जमीन अधिकारी के द्वारा अमीन से पैमाइश कराया गया जिसका नकल भी मेरे पास है फिर इस जमीन को हथियार के बल पर चौढ़ली गांव निवासी मोहम्मद किस्मत अली अजमत अली मोहम्मद अलाउद्दीन सहित उक्त नामित व्यक्ति मेरे खेत पर बार जबरदस्ती चढ़कर बुवाई कर दिया साथ ही गाली गलौज देते हुए कहा कि किसके पास जाती हो कौन तुम को बचाएगा दोबारा इस जमीन पर नहीं आना।
 इसी को लेकर उक्त पीड़ित परिवार ने बेलदौर थानाध्यक्ष को लिखित आवेदन दिया है वहीं थानाध्यक्ष संतोष कुमार ने बताया है कि उक्त आवेदन के आलोक में अपने अधीनस्थ करने से जांच पड़ताल करवाकर दोषियों के ऊपर कानूनी कार्रवाई की जाएगी

 2,915 total views,  5 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *