न्यूज बिहार बेगूसराय भारत

कलश शोभायात्रा के साथ 12 दिवसीय रामायण कथा महायज्ञ का शुभारंभ।

विनोद शर्मा की रिपोर्ट
छौड़ाही (बेगूसराय) : प्राणी जगत के कल्याणार्थ भव्य कलश जल यात्रा के साथ गुरुवार को रामजानकी ठाकुरबाड़ी चलकी में बारह दिवसीय रामायण कथा महायज्ञ का शुभारंभ हो गया।
श्रीमहंत रामलखन दास चतुर्भुजी के नेतृत्व में श्रद्धालु नर नारियों ने पवित्र बूढ़ी गंडक नदी के मिर्जापुर घाट से कलश में नदी का जल भर जय जय सीताराम नाम का जयकारा लगाते हुए बारा, दौलतपुर, मोक्करी गांव होते हुए चलकी राम जानकी ठाकुरबारी स्थित यज्ञ स्थल पर पहुंचे।

इस अवसर पर महंत रामलखन दास जी ने कहा कि जीव जगत के कल्याणार्थ यह भव्य धार्मिक आयोजन किया जा रहा है। अयोध्या धाम गुरुद्वारा के राम कथा वाचक सुश्री लीला देवी के द्वारा 12 जुलाई तक रामायण कथा वाचन किया जाएगा। महंत चतुर्भुजी ने कहा कि घोर कालिका अपने विकराल पराक्रम से प्राणी मात्र को सन्मार्ग से विचलित कर कुमार्ग पर घसीटा है। ऐसी दशा में हरसंभव देवी देवताओं एवं महात्माओं के योग जप तप कथा एवं राम धुन से ही सांसारिक जीवन का कल्याण होता है। ऐसी दशा में इस तरह के सत्संग, धार्मिक कथाओं के आयोजन की जरूरत है। यज्ञ कार्यक्रम के बारे में बताया कि आषाढ़ शुक्ल पक्ष द्वितीया तिथि शुक्रवार को दुर्गा पूजनोत्सव एवं कलश पूजन के बाद कीर्तन भजन करते हुए नगर परिक्रमा कराया जाएगा। साथ ही राम जानकी रथ यात्रा निकाली जाएगी।

13 जुलाई को आषाढ़ शुक्ल पक्ष गुरु पूर्णिमा के दिन अष्टयाम यज्ञ आरंभ कर अगले दिन यज्ञ की पूर्णाहुति होगी। यज्ञ आयोजन में प्रधान व्रती राजेंद्र प्रसाद महतो उर्फ राघो महतो, अरुण कुमार महतो उर्फ मुंशी जी, अशोक महतो समेत समस्त चलकी ग्रामवासी तन मन धन से लगे हुए हैं।

 5,145 total views,  4 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published.