गया न्यूज बिहार भारत

दुर्गा पूजा को लेकर जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक ने की बैठक दिए कई दिशा निर्देश।

धीरज गुप्ता की रिपोर्ट।
  गया:- आनेवाले दुर्गा पूजा  त्योहार के मद्देनजर जिले में विधि व्यवस्था एवं शांति व्यवस्था एवं आपसी भाई चारे के साथ पर्व पूरे खुसी माहौल में संपन्न हो, इसके लेकर जिला पदाधिकारी, गया डॉक्टर त्यागराजन एसएम एवं वरीय पुलिस अधीक्षक हरप्रीत कौर की अध्यक्षता में ज़िला स्तर के पूजा आयोजन समितियों, शांति समिति के सदस्यों एवं गणमान्य व्यक्ति के साथ बैठक करते हुए कई आवश्यक सुझाव लिए गए हैं। प्रशासन द्वारा कई आवश्यक निर्देश सभी आयोजकों तथा शांति समिति के सदस्यों को दिए गए हैं।इस  संबोधित करते हुए जिला पदाधिकारी ने स्पष्ट निर्देश दिया कि सभी शांति समिति के सदस्य एवं आयोजक मूर्ति विसर्जन के दौरान अपने अपने क्षेत्र में स्वयं उपस्थित रहना सुनिश्चित करेंगे।
     आगे बताया गया कि गया शहरी क्षेत्र से लगभग 100 से 110 मूर्तियां स्थापित किया जा रहा है। जिला पदाधिकारी ने सभी थाना अध्यक्ष एवं अनुमंडल पदाधिकारी सदर को निर्देश दिया कि कौन से क्षेत्र से कितने बजे और किस तिथि में एवं किस रूट से मूर्ति का विसर्जन किया जाएगा, इससे संबंधित पूरी विवरण थाना बार तैयार रखें ताकि विसर्जन के समय कोई समस्या ना हो। सभी पूजा पंडाल के आयोजक को निर्देश दिया कि अपने-अपने पूजा पंडाल को पूरी मजबूती के साथ बनावे इसके साथ पब्लिक ऐड्रेस सिस्टम, सीसीटीवी कैमरा, पर्याप्त रोशनी की व्यवस्था, यदि किसी परिस्थिति में आग लगने पर आग से बचाव हेतु व्यापक व्यवस्था इत्यादि अनिवार्य रूप से रखे इत्यादि अनिवार्य रूप से रखें।
  दुखरनी मंदिर के समीप पांच एक साथ बैठने वाले आयोजकों के साथ बैठक करते हुए उन्होंने जिम्मेदारी तय करते हुए कहा कि दुखरनी मंदिर के समीप मूर्तियों का विसर्जन समय सीमा के अंदर करें। इसके साथ ही संवेदनशील क्षेत्र में मूर्तियों को देर तक रखते हुए अनावश्यक नाराबाजी ना करें। प्रशासन की ओर से दुख हरनी मंदिर के समीप व्यापक प्रकाश की व्यवस्था रखी जाएगी जगह-जगह पर बैरिकेडिंग की भी व्यवस्था रखी गई है। एक स्थान पर बिना कारण प्रतिमा को रोकते हुए जाम का रूप देना भीड़ एकत्रित करवाना आदी पर विशेष नजर रखते हुए भीड़ को लगातार रेगुलेट करते रहे। सभी आयोजन समिति अपनी अपनी जिम्मेदारियों का पूरी तरह से पालन करावे। जिला जिलाधिकारी ने नगर आयुक्त को निर्देश दिया कि दुखरनी मंदिर के समीप पर्याप्त सफाई व्यवस्था सुनिश्चित करावे।

जिलाधिकारी   ने सभी आयोजन समितियों को सख्त हिदायत दिये कि बिना लाइसेंस की एक भी मूर्ति नहीं बैठाया जाएंगे, इसके साथ ही लाइसेंस लेने के दौरान आयोजक के साथ-साथ 10 वालंटियर का नाम भी अनिवार्य रूप से देना सुनिश्चित करें।
   इसकी जानकारी पूर्व के सभी पर्व त्यौहार काफी अच्छे शांति माहौल में संपन्न हुए हैं आगामी दुर्गा पूजा भी उसी शांति माहौल में गुजरे इसे सभी शांति समिति के सदस्य सुनिश्चित करावे। इस बैठक को संबोधित करते हुए वरीय पुलिस अधीक्षक हरप्रीत कौर ने कहा कि दुर्गा पूजा श्रद्धा आस्था का पर्व है उसे उसी आस्था एवं श्रद्धा के साथ मनाएं किसी भी स्थिति में हुरदंगबाजी बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। पर्व को देखते हुए पेट्रोलिंग की ओर सख्त व्यवस्था रखी गई है ताकि कहीं भी कोई छोटी एक छोटी घटना भी ना हो सके। उन्होंने कहा कि मूर्ति विसर्जन के दौरान किसी भी हाल में हथियार प्रदर्शन पर पूरी तरह प्रतिबंधित है इसके साथ ही डीजे भी पूरी तरह बंद रखा गया है उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया पर पूरी नजर रखी जा रही है साइबर सेल गठन करते हुए 24 घंटे एक्टिवेट मोड में रखा गया है। उन्होंने कहा कि यदि किसी व्हाट्सएप ग्रुप फेसबुक इत्यादि सोशल साइट पर आपत्तिजनक फोटो और वीडियो या वैसे कुछ खबर जो किसी संप्रदायिक भावना को ठेस पहुंचे उस स्थिति में ग्रुप एडमिन पर भी कार्रवाई की जाएगी किसी भी हाल में धार्मिक भावना आपसी भाईचारा को ठेस ना पहुंचे इसे ध्यान में रखें। अपने-अपने पूजा पंडालों के समीप भीड़ नियंत्रण हेतु समुचित व्यवस्था अनिवार्य रूप से सभी आयोजक रखें।

Loading

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *