गया न्यूज बिहार भारत

जीबीएम कॉलेज में महापर्व दीपावली के शुभअवसर पर रंगोली प्रतियोगिता का आयोजन।

 

धीरज गुप्ता की रिपोर्ट।

गया:-  गौतम बुद्ध महिला महाविद्यालय में कॉलेज के कला परिषद द्वारा महापर्व दीपावली के सुअवसर पर प्रधानाचार्य प्रो. जावैद अशरफ के संरक्षण तथा अंग्रेजी विभाग की असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. रश्मि प्रियदर्शनी एवं अर्थशास्त्र विभाग की असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. नगमा शादाब के संयोजन में रंगोली प्रतियोगिता का आयोजन किया गया, जिसमें छात्राओं ने तरह-तरह रंगों, पुष्पों एवं दीपकों से एक से बढ़कर एक खूबसूरत तथा आकर्षक रंगोलियाँ बनायीं। चार-चार छात्राओं से बने छः समूहों दुर्गा, लक्ष्मी, सरस्वती, पार्वती, सीता, राधा का नाम दिया गया है। प्रतियोगिता में प्रथम स्थान पर सीता समूह की राखी, दीपिका, मनीषा एवं दीप्ति द्वारा बनायी गयी रंगोली रही है। द्वितीय स्थान पर दुर्गा समूह की रिया, मोनिका, पल्लवी एवं प्रियंका की तथा तृतीय स्थान पर पार्वती समूह की दीप्ति, माही, दिव्या तथा अंशु की रंगोलियाँ रहीं हैं। लक्ष्मी समूह की अमीषा, आरती, मोनिका एवं प्रतिज्ञा की, सरस्वती समूह की स्वीटी, नंदिनी, रौशनी एवं निधि की एवं राधा समूह की मुस्कान, प्रियंवदा, नीलम एवं पूनम की रंगोलियाँ सांत्वना पुरस्कार के लिए चयनित की गयीं है। विजेता प्रतिभागियों को प्रधानाचार्य प्रो. अशरफ ने पुरस्कार प्रदान कर सम्मानित किया गया है।

उन्होंने सभी रंगोलियों को बेहद खूबसूरत बताते हुए छात्राओं के द्वारा कम समय में दिये गये अनोखे प्रदर्शन की काफी सराहना की है। इस कार्यक्रम संयोजक-सह-कॉलेज की जन संपर्क अधिकारी डॉ. रश्मि प्रियदर्शनी के अनुसार इस तरह के आयोजनों से छात्राओं में भारतीय कला, संस्कृति तथा सभ्यता के प्रति सम्मान की भावनाओं का विकास होता है तथा सर्वत्र सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है।इस  कार्यक्रम में प्रो किश्वर जहाँ बेगम, प्रो अफ्शाँ सुरैया, डॉ शगुफ्ता अंसारी, डॉ अनामिका कुमारी, डॉ. अमृता कुमारी घोष, डॉ पूजा, डॉ पूजा राय, डॉ कृति सिंह आनंद, डॉ. बनिता कुमारी, डॉ शिल्पी बनर्जी, डॉ. फरहीन वजीरी, डॉ. रुखसाना परवीन, प्रीति शेखर की भी उपस्थिति रही है। सभी ने छात्राओं द्वारा बनायी गयी रंगोलियों की जमकर तारीफ की है।

राखी, दीपिका, मनीषा एवं दीप्ति को रंगोली में मिला प्रथम स्थान

Loading

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *