न्यूज पदाधिकारी बिहार भारत सहरसा

जाति आधारित जनगणना को लेकर को प्रशिक्षण।

सहरसा जिला के पतरघट प्रखंड में आपको अपनी जाति सरकार को बतानी पड़ेगी। इसको लेकर प्रखण्ड में तैयारी शुरू हो गयी है। प्रखण्ड में जाति आधारित जनगणना का कार्य अगले वर्ष प्रारंभ हो जाएगा। इसको लेकर 28 दिसंबर से 4 जनवरी तक प्रशिक्षण कराया जाएगा। बिहार में जाति आधारित जनगणना के साथ-साथ लोगों की आर्थिक हैसियत का भी अंदाजा लगाया जाएगा। बिहार में जाति आधारित जनगणना अगले साल शुरू हो जाएगी। इसको लेकर प्रखण्ड विकास पदाधिकारी रचना भारतीय प्रशिक्षण शुरू कर दिया है जिसमें 28 दिसंबर से 4 जनवरी तक कर्मियों को प्रशिक्षण दिया जाएगा । प्रखण्ड के कर्मियों जो जातीय जनगणना में भाग लेंगे, उनका प्रशिक्षण का कार्य शुरू हो गया । प्रखण्ड के अधिकारी जाति जनगणना में लगे कर्मियों को प्रशिक्षण शुरू हो गया है कर्मियों को प्रशिक्षण देने के लिए मास्टर ट्रेनर सुशील पासवान, सरोज कुमार , प्रशिक्षण सहायक पदाधिकारी कुमारी कोनिका । 

प्रखण्ड विकास पदाधिकारी रचना भारती ने बताया कि 7 जनवरी से शुरू होगी जाति आधारित जनगणना प्रखण्ड में 7 जनवरी से जाति आधारित जनगणना शुरू होगा। जो 31 जनवरी तक चलेगा। पहले चरण में मकान का नंबरीकरण तथा संक्षिप्त मकान की सूची का निर्माण कार्य किया जाएगा। इस जनगणना के लिए लोगों के द्वारा जो डाटा लिया जाएगा उसमें गणना ऐप में अपलोड किया जाएगा। इसके लिए प्रशिक्षण दिया जा रहा है। विभागीय जानकारों के अनुसार 7 जनवरी से शुरू हो रहे जातीय जनगणना में लोगों से 26 प्रकार के सवाल किए जाएंगे। संभवत जाति प्रमाण पत्र की प्रति व इसकी नंबर लगानी होगी। जिनके पास जाति प्रमाण पत्र नहीं होगा उनकी प्रमाणिक पुष्टि पड़ोसियों से किए जाने की संभावना है। जाति जनगणना के लिये इस प्रशिक्षण में पंचायत सचिव , रोजगार सेवक, विकास मित्र, आवास सहायक सहित अन्य कर्मियों को पतरघट उत्क्रमित उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

Loading

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *