न्यूज बिहार बेगूसराय भारत मजदूर मनरेगा

मनरेगा योजना के तहत चल रहे कार्य में मजदूर के जगह जेसीबी से की जा रही हैं काम , मजदूर में आक्रोश।

बलवंत चौधरी ( बेगूसराय )
 * काम नहीं दिए जाने के चलते मनरेगा मजदूरों का हंगामा ।
 मामला  बेगूसराय जिला के बखरी प्रखण्ड अंतर्गत राटन पंचायत के ध्यानचक्की गांव का है।
   ध्यानचक्की गांव से जोकियाही पुल निकट तक मनरेगा योजना तहत बनने वाली सड़क में आज सुबह मजदूर जब काम करने गया तो मजदूरों को यह कहकर लौटाया जाने लगा कि अब मजदूरों का काम नही है, जबकि जेसीबी और ट्रेक्टर से मिट्टी कटाई कर सड़क बनाने का काम बदस्तूर जारी था,इसी बात पर मजदूर लोग भड़क गए और हंगामा करने लगे और आरोप लगाया कि गांव के मजदूरों को गांव में ही सरकार द्वारा काम दिए जाने की घोषणा सर्वविदित है,।

 

फिर भी मजदूर की जगह जेसीबी से कार्य क्यों किया जा रहा है।
 मजदूरों द्वारा कार्यस्थल पर हो हल्ला  की बात सुनकर बरे पैमाने पर स्थानीय ध्यानचक्की के ग्रामीण भी जुट  गए और मजदूर लोगों की बात को सही मानते हुए जेसीबी एवं ट्रेक्टर द्वारा किये जा रहे सड़क पर मिट्टी भराई कार्य को रोक दिया।

स्थानीय मजदूर ओंकार गोस्वामी,रौशन गोस्वामी,पंकज गोस्वामी,रघुबीर सहनी ने बताया कि मुखिया द्वारा मनमानी किया जा रहा है,हम गरीब लोग खाने को मर रहे हैं,इस परिस्थिति में सरकारी आदेश के उलट मजदूरों की जगह जेसीबी से मिट्टी भराई करना कहाँ तक उचित है।स्थानीय ग्रामीणों एवं मजदूरों के भाड़ी आक्रोश को देखते हुए बाद में कुछ मजदूरों को काम पर लगाया गया है।

लोगों ने शिकायत किया कि कार्यस्थल पर न तो बोर्ड लगाया गया है, ओर ना ही कोरोना महामारी के मद्देनजर जो सुविधा उपलब्ध कराए जाने की बात है,मास्क लगवा कर मजदूरों से काम कराया जाना,सेनिटाइजर एवं स्वास्थ किट उपलब्ध रखना, इन सभी बातों को नजर अंदाज किया जा रहा है।
पता चला है कि कार्यस्थल पर देख-रेख हेतु कभी कोई सरकारी कर्मी भी नही आते हैं,जिससे कि सरकारी नियम कायदे की जानकारी लोगों को मिल पाती,इससे मजदूरों तथा ग्रामीणों में काफी क्षोभ देखा जा रहा है।
नोट: –  बखरी से जीतेंद्र कुमार के रिपोर्ट पर आधारित खबर

 

 2,571 total views,  3 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *