अररिया कोरोना न्यूज बिहार भारत राहत वितरण लॉक डाउन

कोरोना महामारी के बीच इस आपातकाल की स्थिति में गरीबों के लिए मसीहा बनकर उभरे उम्मीद ए रेय ऑफ लाईफ संस्था के सदस्य अकबर खान

ज्ञान मिश्रा  रिपोर्टर
फारबिसगंज(अररिया)-कोरोना महामारी के बीच बिहार  इस आपातकाल की स्थिति में गरीबों के लिए बना हुआ है मसीहा। उम्मीद ए रेय  ऑफ लाईफ संस्था सदस्य अकबर खान शख्स  लगातार भारत में चल रहे लॉक डाउन के दौरान जमीनी स्तर पर जनता के बीच जाकर अनाज से लेकर राहत की हर एक सामग्री पहुंचाई है। जी हां हम बात कर रहे हैं।
उम्मीद ए रेय  ऑफ लाईफ संस्था के सदस्य अकबर खान की, जो कि लगातार इस मुश्किल परिस्थिति में हर समुदाय के गरीबों के लिए बढ़-चढ़कर आगे आए हैं, इनके लिए समाज सेवा मजहब से भी बड़ी दायित्व है। आज पोखर बस्ती में लोगो के बीच राशन वितरण किया गया सभी संप्रदाय के लोगों से इस संकट की घड़ी में जरूरतमंदों के लिए आगे आने की अपील की। जिस तरीके से भारत के माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा सात वचनों में से एक वचन था “अपने आसपास के गरीबों को भूखा नहीं सोने दे” , उसी वचन को पूरी बखूबी से यह शख्स निभा रहा है। उम्मीद ए रेय  ऑफ लाईफ संस्था के सदस्य अकबर  जैसे कई संस्थाओं के सदस्यों को आगे आने की जरूरत है, क्योंकि यह कोरोना की लड़ाई किसी संप्रदाय से नहीं बल्कि देश से हैं और देश ऐसे इंसान को सलाम करता है।

उम्मीद ए रेय  ऑफ लाईफ संस्था के सदस्य  के द्वारा जरूरतमंदों के लिए खाद्य सामग्री से मदद पहुंचाई जा रही है, इनका प्रयास है किसी जरूरतमंद व्यक्ति को इस संकट की घड़ी में भूखा नहीं सोने दे। साथ ही साथ यह भी बताया की कोरोना वायरस की संक्रमण के चैन को तोड़ने के लिए पूरे देश में गरीबों एवं वंचितों को आर्थिक रूप से परेशानी झेलनी पड़ रही है, संकट के इस घड़ी में कई सामाजिक संगठन को आगे बढ़ चढ़कर गरीबों की मदद करने की आवश्यकता है। इनके द्वारा लगातार गरीबों के बीच अनाज का वितरण किया गया है आगे भी इस मुहिम को जारी रखेंगे।इस मुहिम में संस्था के गोल्डन रहमान,इमरान खान,शानू गुप्ता,सैफुर रहमान आदि सभी कार्यकर्ताओं ने बंटवाने का काम दिया।

 2,502 total views,  2 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *