कोऑर्डिनेटर खगड़िया न्यूज पदाधिकारी परियोजना बाल विकास बिहार बेलदौर भारत मारपीट रिश्वत विरोध

बाल विकास परियोजना के कोऑर्डिनेटर फॉर्म जमा करने के नाम पर रिश्वत के तौर पर लेते हैं ₹200, जिला अध्यक्ष प्रेमलता मिश्रा ने की विरोध तो कोऑर्डिनेटर ने चप्पल से कर दी पिटाई।

राजकमल कुमार / बेलदौर / रिपोर्टर।
बेलदौर प्रखंड  के मुख्यालय में अवस्थित बाल विकास परियोजना केंद्र के कोर्डिनेटर अमित कुमार ने जिला अध्यक्ष प्रेमलता मिश्रा के साथ अभद्र व्यवहार एवं मारपीट की गई।
 मालूम हो कि प्रेमलता मिश्रा अपने पोषक क्षेत्र के फार्म में जमा करने के दौरान कोर्डिनेटर अमित कुमार के द्वारा दो सौ रुपए प्रति फार्म की दर से मांग की, वही प्रेमलता मिश्रा ने इसका विरोध किया तो अमित कुमार ने बताया कि तुम्हारे पिता का ऑफिस है। तुम यहां ऑफिस से निकल जाओ। इस बात को लेकर प्रेमलता मिश्रा ने बताया कि हम किस आधार पर आपको दो सौ रुपए प्रति फॉर्म नहीं देंगे, नहीं देने पर चयन मुक्त करवाने का धमकी दिया जाता है। वही प्रेम लता मिश्रा ने बताएं आप कौन होतो है आप हमारे पदाधिकारी भी नहीं है। इस बात को लेकर अमित कुमार ने बदतमीजी करते हुए चप्पल से मारपीट की यह धटना निंदनिय है।

वही मौके पर पहुंच कर पंसस प्रतिनिधि मिथिलेश कुमार मिट्ठू एवं प्रखंड प्रमुख विकास कुमार पासवान ने इस धटना को  शर्म निंदिया बताया। वहीं बिंदु कुमारी प्रखंड अध्यक्ष ने बताया कि महिला पर्यवेक्षक महिला प्रवेक्षिका के द्वारा प्रत्येक माह भोचर पास करने के लिए एक हजार रुपैया  प्रति माह लिया जाता है।एक हजार रूपया नहीं देंगे तो भोचर पास नहीं किया जाता है।

वही महिला पर्यवेक्षका  ने बताया कि यह सभी रुपैया सीडीपीओ नैना सिंह के पास जाता है  तब जाकर भोचर पास किया जाता है। वही माननीय सुबे के मुख्यमंत्री कहते हैं बिहार में पूर्ण रूप से भ्रष्टाचार को जड़ से खत्म कर दिया है। वहीं सुबे के शासनकाल में रहते घूसखोरी भ्रष्टाचार बढ़ गया। इस पर अंकुश लगाने में नाकाम साबित हो रहे हैं।

 2,851 total views,  2 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *