छौड़ाही जमीनी विवाद न्यूज पदाधिकारी पुलिस पोस्टमार्टम बिहार बेगूसराय भारत मारपीट मौत राजनीतिक विधायक सीपीआई सीपीएम

बाजितपुर भूमि विवाद में घायल सीपीआई के महिला कार्यकर्ता की मौत। शव के साथ गांव में हो रहा धरना प्रदर्शन।

बलवंत चौधरी (सबकी खबर न्यूज रूम)
 (बेगूसराय) : छौड़ाही ओपी क्षेत्र के बाजितपुर गांव में गुरुवार को भूमि विवाद में सीपीआई एवं सीपीएम समर्थकों के बीच हुए खूनी संघर्ष में घायल एक सीपीआई के महिला कार्यकर्ता की मौत शनिवार की रात हो गई। मृतका बाजितपुर निवासी रामबालक दास की पत्नी संजू देवी हैं। मृतका के पति राम बालक दास ने बताया कि गांव के ही जयराम दास मुन्ना ठाकुर आदि ने उनकी पत्नी पर फरसा से सर पर प्रहार कर  दिया था। घायल का बेगूसराय में इलाज चल रहा था जहां शनिवार की रात उनकी मौत हो गई ।
नगर थाना की पुलिस महिला के शव का पोस्टमार्टम करा स्वजनों के हवाले रविवार की सुबह कर दिया। महिला ने मौत से स्वजनों में मातम छाया हुआ है। संजू देवी के पति  जहां बेसुध पड़े हैं वहीं उनके 12 वर्षीय उनके पुत्र  एवं  के दो बच्चे  मां से लिपट कर रो रहे हैं जबकि बाजितपुर गांव में दो पक्षों के बीच भारी तनाव व्याप्त हो गया है । कई थाना की पुलिस बाजितपुर गांव पहुंच कैंप कर रही है।

दूसरी तरफ रविवार को सीपीआई के महिला का शव गांव पहुंचते हीं ग्रामीण आक्रोशित हो गए। संजू देवी तुम्हारी शहादत बेकार नहीं जाएगी, शहीद संजू अमर रहे की नारेबाजी के साथ समूचे गांव में भ्रमण कर चौक पर शव रख धरना प्रदर्शन करने लगे। सीपीआई के जिला मंत्री पूर्व विधायक अवधेश राय भी ग्रामीण के प्रदर्शन में शामिल हुए। काफी देर बाद समझाने पर शव का दाह संस्कार किया गया। मृतका के 12 वर्षीय गूंगे पुत्र हीरा कुमार,  एवं आठ और पांच वर्षीय  पुत्र नीतीश और सौरभ समेत स्वजन शव के साथ  लिपटकर फूट-फूट कर रो रहे थे। वहीं उनके पति राम बालक दास विछिप्त से हो गए हैं। ओपी अध्यक्ष ओमप्रकाश ने बताया कि महिला के हत्या के संबंध में प्राथमिकी दर्ज कर कारवाई प्रारंभ कर दी गई है।

सीपीआई के जिला मंत्री पुर्व विधायक अवधेश राय ने कहा कि कुछ निहित स्वार्थी तत्वों ने जमीन पर कब्जा कर फसल नष्ट कर रहे थे। अपने फसल जमीन की रक्षा के लिए गए हमारे कार्यकर्ता पर बबल बर्बर हमला हुआ एक महिला कार्यकर्ता ने अपनी शहादत दी है। यह शुद्ध रूप से प्रशासन की विफलता है । उन्होंने कहा कि साल भर से हम लोग बार-बार एसडीएम से मांग कर रहे हैं कि बैठकर के मामले को सुलझा जमीन का वितरण कर दिया जाए । लेकिन अधिकारियों ने मेरे बात पर ध्यान नहीं दिया। लूट का खसोट पैसे की उगाही में अधिकारीगण लगे रहे जिसका परिणाम है कि हमारे एक कार्यकर्ता ने शहीद हो गए हैं। उन्होंने प्रशासन से मांग की कि घटना में संलिप्त लोगों की अविलंब गिरफ्तारी हो, मृतका के परिजनों को मुआवजा दिया जाए एवं जमीन का जल्द से जल्द पर्चा हकदारों को दिया जाए । 24 घंटे में कार्रवाई नहीं होने पर सीपीआई बड़ा जन जन आंदोलन छेड़ देगी। मौके पर सीपीआई नेता राजेंद्र चौधरी, अनुमंडल प्रभारी रामपदारथ सिंह आदि मौजूद थे।

 

 1,400 total views,  3 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *